Some Chutkule’s

 

What wives can see through is no joke…this one is!

पत्नी:मेरी ये समझ में नहीं आता की कई साल से मैं करवा चौथ का व्रत नहीं रख रही
फिर भी तुम पूर्ण स्वस्थ कैसे चल रहे हो।

पति: मैं बहुत नियम संयम से रहता हूँ इसलिए।

पत्नी: मुझे बेवक़ूफ़ समझ रखा है क्या ?
सच सच बताओ वह कौन है
जो तुम्हारे लिए करवा चौथ का व्रत रखती है

 

Have you noticed…

कहावत: हाथ की “पांचों” उँगलियॉ एक समान नहीं होती है!

हकीकत: पर “खाने” के वक्त सभी उँगलियॉ एक हो जाती है! !

हिंदुस्तान के समस्त “राजनैतिक दलों” को समर्पित

 

Sometimes even a PJ can be funny with Santa and Banta around:

संता अपने कुत्ते को पकड़ कर…
उस की पुंछ को पाइप में डाल रहा था…

बंता: “ओए…कुत्ते की पूंछ कभी सीधी नहीं होती…”
संता: “मालुम है मुझे…मेरे को तो पाइप टेढ़ा करना है…!!”

Did you see that coming? Santa must get his due.

 

A joke, one would think, is a last place to find poetic imagery – you’ve reached one!

लड़का: तुम्हारा दुप्पटा उठा लो जमीन से घिसा जा रहा है!
लड़की: “दुप्पटा भी अपना फ़र्ज़ निभा रहा है, कोई चूम न ले मेरी कदमो की मिटटी को इसलिए ये निशान मिटा रहा है!!” (Isn’t that worth a ‘wah, wah. kya keh diya aapne!’)

लड़का: अपसरा की औलाद, आगे गोबर है  (Imagine what a couple they would make!)

 

End

 

From: dr puneet and santabanta.com

Advertisements

3 Responses to Some Chutkule’s

  1. V Narayanan says:

    Sorry dear I can’t read, understand Hindi – little spoken phrases only.

    About 40 years before, Kumudam the Tamil weekly published a supplement – Nallathhan sonnar Nasirudeen Mulla But it was lost in T Thurai among other several collections.

    Liked by 1 person

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s

%d bloggers like this: